यह गर्मी की बारिश ये बारिश का पसीना और ये पसीने की बूंदे कुछ कह रही है जरा सुने। 😰

शायद मैं गलत हो सकती हूं लेकिन आज शायद ही सबको मालूम हो कि आज अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण दिवस हैं। मगर तारीख में कुछ नहीं रखा है बस हम इसके लिए कितने जागरूक है उसमे बहुत कुछ रखा है। बीते कुछ सालों की कुछ ताजा खबर अभी हाली में बहुत सारी जगह पर प्राकृतिक आपदाएं देखी गई और जब ये सुनते है की कई लोगो को इस हादसे मैं मौत हो गई तब हम कहते है। है भगवान ! यह क्या हो रहा है देश और दुनिया मै लेकिन इसके जिमेदार कही न कही हम ही हैं। कुछ गलत कहा मैंने ?

हो सकता है की हम अपने आप को इसका जिम्मेदार न माने पर सच तो सच है। आप सोचते होंगे इन सब के जिम्मेदार बड़े कारोबारी है जिन्होंने फैक्ट्रीया खोल रखी है पर क्या इसके लिए हम और हमारी सरकार जिम्मेदार नहीं है। क्या सरकार इन्हें टेंडर नही देती सरकार इन्हें परमिशन नही देती। बात सिर्फ इतनी नही है बात यह है की हमने कभी भी स्मार्ट सिटी पर चल रहे प्रोजेक्ट पर कभी अपनी आवाज नही उठाई जिस प्रोजेक्ट में इतने पेेड़-पौधे काटे जाते हैै इतना कार्बन उत्सर्जन होता है। शायद किसी ने नहीं देखा की सरकार ने जितने पेड़ लगाने का वादा किया था वो पूरा हुआ कि नही। क्योंकि वादे सिर्फ वादे होते है किए ही तोड़ने के लिए जाते है।

लेकिन जितनी सरकार की जिम्मेदारी है उतनी ही हमारी भी क्योंकि हमने पूछा ही नही तो उन्होंने बताया भी नही। हर एक साल या फिर एक महीने मैं नया कोई प्रोजेक्ट अनाउंस किया जाता है और ये प्रोजेक्ट जितने तेजी से अनाउंस होते है उतनी तेजी से शायद ही पूरे होते हो। चलिए एक उदाहरण दे ही देते है शायद आपने लक्षद्वीप के बारे मैं सुना हो नही सुना हो तो google कर लीजिए लक्षद्वीप नेचर का एक अदभुत दृश्य ,जगह जो कहना चाहे कह दीजिए जल्द वहा एक छोटी मगर स्मार्ट सिटी बनने वाली हैं। बाकी खबर की पुष्टि आप कर लीजिएगा। अरे! माफ कीजिए हम मुद्दे से भटक गए थे वो किया है आजकल हम मुद्दे से भटके हुए ही है चलिए वापिस मुद्दे पर आते है।

तो हम थे लक्षद्वीप में अब हम लक्षद्वीप से आगे बढ़ते हुए पहुंचते है दिल्ली में जो दिलवालो की नगरी है लेकिन यहा का प्रदूषण उन दिलो को मेला कर देता है। और अब प्रदूषण बड़ाने के लिए सेंट्रल विस्ता की नई मुहिम छेड़ दी गई है देखिए मेरी उससे कोई दुश्मनी तो नही है मगर हां कई लोगो को यह बहुत खड़का है वो आम तौर पर हमे ट्विटर इत्यादी पर देखने मिलता है। अभी हाली मैं यूनियन मिनिस्टर जी ने इस पर अपना बयान जारी किया उसमे उन्होंने जो कहा वो आप खुद खोज ले लेकिन उस बात पर मैं सिर्फ इतना कहना चाहता हूं की अगर आपको नया संसद बनाना है तो बेशक बनाए मगर नए PM आवास की क्या जरूरत है यह मुझे कुछ समझ नहीं आया। और थोड़ा प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए कुछ इंतजाम किए जाए।

PM new residence

और आप सब से निवेदन है कि जरा प्रदूषण पे ध्यान दीजिए जितना हो सके उतना public वाहनों का इस्तेमाल करे तथा साइकिल पर आ जाए वैसे भी पेट्रोल कुछ सस्ता नही लग रहा। और थोड़ा अपनी आवाज को बुलंद करे कुछ अपने लिए कुछ पर्यावरण के लिए क्योंंकि जब तक आप अपनी चूपी थामे रखोगेे तब तक corona जैसी महामारी आती रहेगी और अगर आप इस पर बोले की वायरस चीन से आया है तो बस आपसे यही कहूंगा कि चीन तो चीन है कभी नहीं सुधरेगा 🤣 लेकिन आप तो सुधर सकते है।

चलिए अब बात करते है कुछ रिपोर्ट्स की जो हमे climate change के बारे मे बताती है।

हर साल की तरह ही आपको सोशल मीडिया पर कई पोस्ट देखने को मिल जायेंगे world environment day पर बताते हुए की हम कितनी केयर करते है पर्यावरण की पर आपको क्या मालूम है।

  1. पिछले हफ्ते ही अंटार्टिका में दिल्ली से तीन गुना बड़ा एक iceburg अंटार्टिक से टूट गया।

  2. उत्तराखंड में ग्लेशियर का फटना

  3. मिजोरम के जंगलों में लगी आग

  4. इंडिया में पिछले महीने दो बड़े बड़े cyclone

  5. पिछला साल तीन सबसे गर्म सालो में से एक था

  6. भारत के 75% जिले चरम जलवायु घटना के हॉटस्पॉट है।

  7. अंटार्टिक मे एक बोहत बड़े हिस्से में ozone layer का एक बड़ा होल होना जिससे अंटार्टिका के कई ग्लेशियर बड़ी तेजी से पिघल रहे है।

  8. दुनिया का 71% कार्बन उत्सर्जन दुनिया की सिर्फ 100 कंपनिया करती है।

Source: indian times

लेकिन क्या हम इन सब चीजों को देखते हुए भी कुछ कर रहे है। हम खुद से पर्यावरण के लिए क्या कर सकते है

  1. पानी कम से कम वेस्ट करे

  2. सिंगल यूज प्लास्टिक का कम इस्तेमाल करे

  3. पर्यावरण के लिए लोगो को जागरूक करे प्रोटेस्ट करे

  4. और लास्ट इस पोस्ट को अपनी फैमिली फ्रेंड्स और अपने जानने वालों के साथ शेयर करे

क्योंकि जब लोग इन सब के प्रति जागरूक होंगे तब ही अपनी जिम्मेदारी समझेंगे यह यह सिर्फ एक दिन की बात नहीं है की आज world environment day है तो चलो एक पोस्ट करे बल्कि हर थोड़े समय में लोगो को जागरूक करने का प्रयास करे जो पानी वेस्ट करे उसे टोके और गर्व से कहे मैं मेरे पर्यावरण का रक्षक हूं।

इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करने की कोशिश करे क्योंकि आप ही के लिए मैं दूसरे का wifi यूज करके यह पोस्ट लिख रहा हूं 🤣 छत पर खड़े होकर आपके सपोर्ट से मेरी यह थोड़ी सी मेहनत कुछ रंग लाए। और इस विषय पर और जानने के लिए आप इंडियन टाइम्स का Yt video देख सकते है और सोनम वांगचुक सर द्वारा बनाया कार्बन emission वाला वीडियो को भी देख सकते है की कैसे हम हमारे कार्बन फुटप्रिंट मिटा सकते है।

Thank you 😊

Don't forget to follow, share and learn

Support

Write a comment ...

Ꭺᴅɪᴛʏᴀ

I write and talk about politics self-growth and the things which i thought to talk on
no stories
There are no posts yet